लिवर – यकृत – Liver


लिवर (Liver) जिसे हिंदी में यकृत कहते हैं, मानव शरीर का एक महत्वपूर्ण अंग है जो कई महत्वपूर्ण कार्य करता है।

यह पेट के ऊपरी दाएं भाग में डायाफ्राम के नीचे स्थित होता है, और शरीर का सबसे बड़ा आंतरिक अंग और ग्रंथि अंग है।

यकृत शरीर में कई महत्वपूर्ण कार्यों को करता है और यदि यकृत ठीक से काम नहीं करता है, तो यह कई स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकता है।


यकृत के मुख्य कार्य

यकृत के मुख्य कार्य निम्नलिखित हैं:

पाचन

पित्त का उत्पादन और स्राव

यकृत पित्त का उत्पादन करता है, जो वसा को पचाने में मदद करता है। यह पित्त पित्ताशय में जमा होता है और भोजन के बाद छोटी आंत में जाता है।

पित्त यकृत से पित्त नलिकाओं के माध्यम से पित्ताशय में जाता है, जहाँ यह जमा होता है।

जब भोजन छोटी आंत में प्रवेश करता है, तो पित्त पित्ताशय से छोटी आंत में स्रावित होता है।

प्रोटीन का चयापचय

यकृत प्रोटीन को पचाने और उन्हें अमीनो एसिड में तोड़ने में मदद करता है। अमीनो एसिड शरीर के लिए आवश्यक पोषक तत्व होते हैं।

कार्बोहाइड्रेट का चयापचय

यकृत ग्लूकोज को स्टोर करता है और आवश्यकतानुसार इसे रक्त में छोड़ता है। यह ग्लूकोज शरीर के लिए ऊर्जा का मुख्य स्रोत है।

वसा का चयापचय

यकृत वसा को पचाने और उसे ऊर्जा में बदलने में मदद करता है। यह वसा को स्टोर भी करता है।

रक्त का शुद्धिकरण

यकृत रक्त से विषाक्त पदार्थों, दवाओं और अन्य हानिकारक पदार्थों को हटाता है।

विषाक्त पदार्थों को हटाना

यकृत रक्त से विषाक्त पदार्थों और अपशिष्ट उत्पादों को हटाता है।

दवाओं का चयापचय

यकृत दवाओं को तोड़ता है और उन्हें शरीर से बाहर निकालता है।

रक्त के लिए एल्ब्यूमिन

यकृत कई महत्वपूर्ण प्रोटीन का उत्पादन करता है, जैसे कि एल्बुमिन, जो रक्त में द्रव को बनाए रखने में मदद करता है।

रक्त के थक्के बनने में मदद करना

यकृत रक्त के थक्के बनने के लिए आवश्यक प्रोटीन का उत्पादन करता है।

रक्त भंडारण

यकृत रक्त को संग्रहीत करता है और आवश्यकतानुसार इसे शरीर में छोड़ता है।

अन्य कार्य

रोग प्रतिरोधक क्षमता

यकृत रोग प्रतिरोधक प्रणाली का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। यह यकृत रोगाणुओं को रक्त से हटाने में मदद करता है और संक्रमण से लड़ने में मदद करता है।

पोषक तत्वों का भंडारण

यकृत विटामिन, खनिज और अन्य पोषक तत्वों को स्टोर करता है।

यकृत विटामिन A, D, E और K और खनिज जैसे आयरन और तांबा को संग्रहीत करता है।

यह ग्लूकोज को ग्लाइकोजन में बदलकर ऊर्जा के लिए भंडारण करता है।

हार्मोन का उत्पादन

यकृत कुछ हार्मोन का उत्पादन करता है जो शरीर के विभिन्न कार्यों को नियंत्रित करते हैं।

यकृत एक महत्वपूर्ण अंग है जो शरीर के कई महत्वपूर्ण कार्यों के लिए आवश्यक है। यकृत को स्वस्थ रखने के लिए, स्वस्थ भोजन करना, नियमित रूप से व्यायाम करना और शराब से बचना महत्वपूर्ण है।


स्वस्थ यकृत

यकृत को स्वस्थ रखने के लिए, निम्नलिखित उपाय करना महत्वपूर्ण है:

  • स्वस्थ आहार खाएं: फल, सब्जियां, साबुत अनाज और दुबला प्रोटीन खाएं।
  • शराब से बचें: अत्यधिक शराब का सेवन यकृत को नुकसान पहुंचा सकता है।
  • हेपेटाइटिस से बचाव करें: हेपेटाइटिस A और B यकृत को नुकसान पहुंचा सकते हैं। टीकाकरण और सुरक्षित यौन संबंधों से इन संक्रमणों से बचा जा सकता है।
  • नियमित व्यायाम करें: नियमित व्यायाम यकृत को स्वस्थ रखने में मदद करता है।

यकृत के रोग

यकृत के कुछ रोग –
हेपेटाइटिस A, B, C, और E
यकृत सिरोसिस
यकृत कैंसर
फैटी लीवर

यकृत रोगों के लक्षणों के प्रति सचेत रहें और यदि आपको यकृत की समस्या के लक्षण दिखाई देते हैं, जैसे कि थकान, पेट दर्द, पीलिया, या मल का रंग हल्का होना, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।